[prisna-google-website-translator]
world

क्रिसमस मनाने के लिए तेलंगाना से अमेरिका गए 3 भाई-बहनों की आग में झुलसकर मौत



अमेरिका के राज्य टेनेसी के मेम्फिस में एक भारतीय परिवार ने अपने तीन बच्चों को खो दिया है. ये तीनों बच्चे मिशनरी स्टूडेंट थे और क्रिसमस के लिए मेम्फिस के परिवार के पास रुके थे. उनकी क्रिसमस से दो दिन पहले यानी रविवार को आग में तब झुलसकर मौत हो गई, जब उनके होस्ट के घर में रात लगभग 11 बजे आग लग गई.

एनडीटीवी की खबर के मुताबिक, ऐरन नाइक, शैरन नाइक और जॉय नाइक क्रिसमस की छुट्टियों के लिए मेम्फिस के काउड्रिएट फैमिली के यहां छुट्टियां मनाने गए थे. इस आग में घर की ओनर 46 साल की केरी काउड्रिएट की भी मौत हो गई है.

टाउन ऑफ फ्रेंच कैंप नाम के फेसबुक पेज से इस घटना की जानकारी दी गई. तीनों बच्चों की तस्वीरें शेयर करके इस पेज पर लिखा गया, ‘परिवार और दोस्त, पेस्टर नाइक और उनकी पत्नी के लिए प्रार्थना करिए. उन्होंने अपने तीन अनमोल बच्चों को भारत से अमेरिका सुरक्षित रखने के लिए भेजा लेकिन यहां आग लग जाने की वजह से उनकी जान चली गई.’

इस पोस्ट में ये भी कहा गया कि ‘ये बच्चे फ्रेंच कैंप कम्यूनिटी के लिए आशीर्वाद थे और सभी लोग उन्हें पसंद करते थे. जब हमें इसका इतना दुख है, तो हम उनके माता-पिता के दुख की कल्पना नहीं कर सकते.’

कलरविले बाइबिल चर्च ने बताया कि इस हादसे में बस केरी के पति डेनियल काउड्रिएट और उनका सबसे छोटा बेटा कोल काउड्रिएट ही सुरक्षित बच पाए. चर्च ने बताया कि बच्चों के परिवार को अभी घटना की पूरी डिटेल नहीं पता है, वो भारत से अमेरिका जा रहे हैं. इसलिए तबतक घटना की कोई जानकारी सोशल मीडिया या मीडिया के जरिए शेयर न की जाए और उनके भावनाओं का सम्मान किया जाए.

Live Share Market

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker