काम वाली बाई ने खुद को मकान मालिक की पत्नी बताकर उसकी करोड़ों की जायदाद हड़पने की साजिश रच डाली

काम वाली बाई ने खुद को मकान मालिक की पत्नी बताकर उसकी करोड़ों की जायदाद हड़पने की साजिश रच डाली



बिलासपुर. भाई की देखभाल के लिए बहन ने जिसे रखा था उसी काम वाली बाई ने खुद को मकान मालिक की पत्नी बताकर उसकी करोड़ों की जायदाद हड़पने की साजिश रच डाली। बहन को जब गोल बाजार की दुकान बिकने की जानकारी हुई तो वह पति के साथ भाई से मिलने पहुंची। भाई से खुल कर बात न हो पाने से बहन ने सिविल लाइन थाने में पहुंचकर मामले की शिकायत कराई है। पुलिस अपराध दर्ज कर जांच में लिया है।

पुलिस के अनुसार आधारशिला तपोवन कॉम्पलेक्स सोमलवाड़ा खामला नागपुर महाराष्ट्र निवासी महिला कृष्णा दुआ का पैतृक घर लिंकरोड में है। पीडि़ता ने बताया कि उनके दो भाई ओमप्रकाश, बृजमोहन व बहन कृष्णा है। पिता की बुखारी पेट्रोल पम्प लिंकरोड के सामने पैतृक मकान व गोल बजार में क्रमांक 33 दुकान है। पिता की मृत्यु के बाद सम्पत्ति तीनों में बंट गई। दोनों भाई अविवाहित हैं। बड़े भाई ओमप्रकाश की मौत के बाद सम्पत्ति बृजमोहन व कृष्णा के नाम पर बराबर आ गई।

फीस नहीं देने वाले छात्रों के पैरेंट्स को प्राइवेट स्कूल प्रबंधन ने एग्जाम से बाहर करने की दी धमकी

कृष्णा अपने ससुराल नागपुर में रहती है व भाई की दिमागी हालत ठीक न होने के कारण घर में चंद्रकली को भाई की देखभाल के लिए रखा था। फोन पर भाई का हालचाल मिल जाता था। इस दौरान कृष्णा दुआ को पता चला कि गोलबाजार स्थित दुकान बिक गई है।

बिना उसकी अनुमति के भाई ने दुकान कैसे बेच दी इसकी जानकारी लेने पहुंची तो पता चला चंद्रकली बाई व उसकी दोनों बेटियों दुर्गेश नंदनी व नीलम ने फर्जी दस्तावेज तैयार किया जिसमें चंद्रकली ने खुद को बृजमोहन की पत्नी बता कर दुकान का सौदाकर अनमोल जुनेजा को बेच दिया। नीलम शर्मा खुद को बृजमोहन दुआ की बेटी बता जायजाद हड़पने की तैयारी कर रही है। पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए चंद्रकली पति आत्मराम, दुर्गेश नंदनी व नीलम पिता आत्मराम के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत अपराध दर्ज कर जांच में लिया है।

मरवाही उपचुनाव: जोगी कांग्रेस के दो विधायक हुए बागी, कांग्रेस को दिया समर्थन

पीड़ित ने कहा अकेले नहीं देते भाई से मिलने
कृष्णा दुआ ने बताया कि वह अपने भाई से मिलने पहुंची तो वह ठीक से चल भी नहीं पता है व उसकी दिमागी हालत पहले से ही खराब है। जब वह अपने भाई से बात कर रही थी तो चंद्रकला व उसकी दोनों बेटियां भी कमरे में खड़ी होकर बात सुनने लगीं। कृष्णा ने तीनों से बाहर जाने को कहा तो तीनों ने कहा जो बात करनी है हमारे सामने करो कोई बाहर नहीं जाएगा।

सिविल लाइन थाना प्रभारी सनिप कुमार रात्रे ने कहा, पीड़िता की शिकायत पर कूट रचना व फर्जी दस्तावेज तैयार कर दुकान बेचने व साजिश के तहत भाई की जायदाद को हड़पने का प्रयास करने की शिकायत दर्ज कराई है। मामले में अपराध दर्ज कर जांच में लिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES