कांग्रेस नेता ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष पर साधा निशाना..कहा..आरोप लगाने से पहले अपना गिरेबान झांके..NGGB योजना की तारीफ पर किया स्वागत

कांग्रेस नेता ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष पर साधा निशाना..कहा..आरोप लगाने से पहले अपना गिरेबान झांके..NGGB योजना की तारीफ पर किया स्वागत


सरगुजा…छत्तीसगढ़ प्रदेश कॉंग्रेस कमेटी विधि विभाग प्रदेश उपाध्यक्ष और सरगुजा संभाग प्रभारी राजेश दुबे ने भाजपा प्रदेशाध्यक्ष विष्णुदेव साय के बयान का स्वागत किया है। राजेश दुबे ने बताया कि विष्णुदेव साय ने दलगत राजनीति से ऊपर उठकर भूपेश सरकार की महत्वाकांक्षी गोधन न्याय योजना की तारीफ कर जनता को सकारात्मक संदेश दिया है। राजेश ने इसके अलावा भाजपा के पन्द्रह साल के कुशासन पर चोट भी किया है।

 

                  राजेश दुबे ने भाजपा प्रदेशाध्यक्ष के भूपेश सरकार पर लगाए गए सभी आरोपों को कल्पना पर आधारित बताया। राजेश ने कहा कि भूपेश सरकार पर निशाना साधने वालों को सबसे पहले अपना गिरेबान देखने चाहिए। विष्णु देव साय पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्हें डॉ रमनसिंह के 15 वर्षों के कुशासन को नहीं भूलना चाहिए।  डॉ रमन सिंह ने  छत्तीसगढ़ की जनता से गाय देने का वादा किया था । लेकिन नही दिया… एक जोड़ी बैल देने का वादा किया था.. नहीं दिया। लेकिन भूपेश सरकार ने प्रदेश के सभी जिलों में गौठान स्थापित कर गोधन के साथ न्याय करते हुए आमजनता को गोधन से आय  उपार्जित करने का मौका जरूर दिया है।

 

                राजेश दुबे ने प्रेस नोट जारी कर बताया कि विष्णु देव साय भविष्य की चिंता छोड़ दें। क्योंकि उन्हें यदि भविष्य की चिंता होती तो नान घोटाला कर आम जनता का चावल रमन सरकार नहीं खाती। जहां तक भुपेश सरकार की नरवा गरवा घुरवा अउर बाड़ी योजना की बात है तो भाजपा प्रदेश अध्यक्ष को थोड़ा ग्रामीण इलाकों का जायजा लेना चाहिए। इसके बाद ही उन्हें पता चलेगा किस प्रकार यह योजना साकार रूप ले रही है। ग्रामीण अंचल के अर्थव्यवस्था तेजी से सुधर रही है। लोगो को नदी नालों तालाबों जल स्रोतों का महत्व पता चल रहा है। गाय, भैंस, बैल जैसे पशुओं का जनता के बीच क्या महत्व है। किसान जनता पशुओं के गोबर  से तैयार खाद  बाड़ी में डाल रही है। भरपूर पैदावार किया जा रहा है। इसके बाद बचे हुए गोबर को लोग सरकार के हवाले कर आय अर्जित कर रहे हैं।

 

            कांग्रेस नेता कहा कि विष्णु देव साय को भुपेश सरकार पर आरोप लगाने से पहले सार्वजनिक रूप से स्वीकार करना होगा कि 15 वर्षों में डॉ रमन सरकार खुलकर शराब बेची है। शराब की सरकारी दुकान भी डॉ रमन सरकार ने ही खोला था। जहां तक शराब बंदी की बात है तो जिस तरह भुपेश सरकार जनता से किये वायदों को निभा रही है उसी तरह अन्य वायदों को पूरा करेगी। भाजपा नेता को शायद जानकारी नहीं है कि पूरे भारत देश के NEET और JEE के छात्र  करोना महामारी चरम पर होने के कारण परीक्षा लेने का विरोध कर रहे हैं। छात्रों के साथ  कॉंग्रेस पार्टी मजबूती के साथ खड़ी है। 

 

                दुबे ने कहा कि साय को प्रदेश को पता होना चाहिए कि किसानों को यूरिया खाद की पर्याप्त आपूर्ति हो रही है। यदि साय को प्रदेश के आदिवासियों की चिंता है तो प्रधानमंत्री  को पत्र लिखकर बस्तर के नगरनार स्टील प्लांट को बेचे जाने का विरोध करना चाहिए। 

loading…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES