करीब 120 मिनट चली बहस.. 90 मिनट बोले अमित जोगी.. नियमों का हवाला देकर माँगा समय.. ज़िला निर्वाचन अधिकारी ने कहा “जो कहना है अभी कहिए.. समय नही दूँगा” और फिर घोषित किया- “अमित ऐश्वर्य जोगी का नामांकन निरस्त करता हूँ”

करीब 120 मिनट चली बहस.. 90 मिनट बोले अमित जोगी.. नियमों का हवाला देकर माँगा समय.. ज़िला निर्वाचन अधिकारी ने कहा “जो कहना है अभी कहिए.. समय नही दूँगा” और फिर घोषित किया- “अमित ऐश्वर्य जोगी का नामांकन निरस्त करता हूँ”


मरवाही,17 अक्टूबर 2020। मरवाही उप चुनाव के 19 प्रत्याशियों के नामांकन पर दावा आपत्ति की जाँच में सबसे ज्यादा समय नवमें नंबर पर लगा। यह नवमां नंबर था अमित जोगी का। करीब करीब ढाई घंटे बाद अमित जोगी बाहर आए जबकि ज़िला निर्वाचन अधिकारी ने फ़ैसला सुरक्षित रख लिया जिसे कुछ देर बाद सार्वजनिक करते हुए घोषित किया

“मैं अमित ऐश्वर्य जोगी का नामांकन निरस्त करता हूँ”

अमित जोगी के नामांकन में आपत्ति कांग्रेस के अलावा गोंडवाना गणतंत्र पार्टी की ओर से उर्मिला मार्को और निर्दलीय प्रताप सिंह भानू ने की थी। तीनों ही के पास राज्य स्तरीय छानबीन समिति के उस आदेश की कॉपी थी जिसमें अमित जोगी का जाति प्रमाण पत्र निरस्त किया गया था।
इस आदेश की कॉपी अमित जोगी के पास नही थी। अमित जोगी के रायपुर स्थित निवास पर यह आदेश अब से कुछ देर पहले दिए जाने की प्रक्रिया पूरी की जा रही है।
बहस के दौरान निर्वाचन निर्देशिका कंडिका 12 का उल्लेख करते हुए अमित जोगी ने जवाब देने के लिए वक़्त माँगा जिसे ज़िला निर्वाचन अधिकारी ने अस्वीकार कर दिया था।
अमित जोगी ने NPG से कहा

“यह आदेश कल जारी किया गया है, इसकी कॉपी मेरे पास नहीं थी,मुझे आपत्ति के वक्त यह आदेश की कॉपी दी गई। मैंने नियमों का हवाला देते हुए जवाब के लिए समय माँगा वो भी नही दिया गया। मेरे विरुद्ध जारी आदेश की कॉपी मुझ तक नहीं पहुँची पर आपत्तिकर्ताओं को मिल गई। जबकि अभी पूरी बहस हो चुकी, इस आदेश की कॉपी अभी मेरे निवास पर मुझे दिए जाने की प्रक्रिया चल रही है”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES