देश दुनिया

इनको सलाम है ! महिला कांस्टेबलों ने स्तनपान करवाकर बचाई भूखी-प्यासी बच्ची की जान

भूखी-प्यासी बच्ची की जान

कोटा ; राजस्थान के कोटा संभाग के बारां जिला के पुलिस ने मानवता की मिसाल पेश की है। जहां भूख और गर्मी से बेहाल ढाई महीने के बच्ची को 2 महिला कांस्टेबल ने अपना स्तनपान कराकर जान बचाई।

मिली जानकारी अनुसार पूरा मामला बारां जिले के सारनाथ थाना क्षेत्र का है। जहां पहाड़ी और जंगली क्षेत्र में एक व्यक्ति नशे में धुत होकर ढाई महीने के बच्ची को लेकर गुजर रहा था। जब लोगों ने देखा तो इसकी सूचना पुलिस को दी। पुलिस मौके पर पहुंची तो नशेड़ी में की झाड़ियों में घुस गया। जिसे पुलिस के जवानों ने बाहर निकाला और बच्ची को उस से बरामद कर लिया।

ढाई महीने की बच्ची अचेत अवस्था में थी। बच्ची के होंठ और मुँह सुख चुका था। पुलिस के जवानों ने बच्ची को थाना ले आया। जहां थाने में तैनात 2 महिला कांस्टेबलों ने बारी-बारी से अपना दूध पिला कर छोटी बच्ची का जान बचाया।

छोटी बच्ची को अपना दूध पिलाने वाली महिला कांस्टेबल मुकलेश और पूजा ने बताया कि उनके भी छोटे-छोटे बच्चे हैं और ढाई महीना की बच्ची को और कुछ खिलाया पिलाया नहीं जा सकते इसलिए उन्होंने अपना दूध पिला कर उनकी जान बचाई।

नसेड़ी व्यक्ति से पूछताछ करने पर पता चला कि वह बच्ची का पिता है। जिसका नाम राधेश्याम काथोड़ी है और वह छीपाबड़ौद थाना इलाके के सालापूरा गांव का रहने वाला है। और बच्ची को 15 किलोमीटर दूर सालापुरा पैदल ही जा रहा था। बच्ची के बारे में जानकारी जुटाने के बाद पुलिस ने बच्चे की मां को थाना बुलाया। और उसे बच्चे को सौंप दिया गया। और भविष्य में इस तरह की गलती नहीं करने की समझाइश भी दी।



Post Views:
12

Related Articles

Back to top button